किंकिणी कीर्तन राष्ट्रीय नृत्योत्सव 2019 के लिए आवेदन आमंत्रित

ऐतिहासिक, धार्मिक और सांस्कृतिक नगरी उज्जैन में होगी कथक, उपशास्त्रीय नृत्य एवं तबला वादन प्रतियोगिता

April 3, 2019
707 Views

शास्त्रीय कथक नृत्य के क्षेत्र में सक्रिय उज्जैन (म. प्र.) प्रतिभा संगीत कला संस्थान किंकिणी कीर्तन राष्ट्रीय नृत्योत्सव 2019 का आयोजन करने जा रही है।

आगामी 13 से 16 मई 2019 तक होने वाली इस प्रतियोगिता में सब जूनियर (3-9 वर्ष आयुवर्ग), जूनियर (9-14 वर्ष आयुवर्ग), सीनियर (14-21आयुवर्ग) और ओपन (21 वर्ष एवं अधिक आयु) केटेगरी में शास्त्रीय कथक नृत्य (Classical Kathak Dance) और उपशास्त्रीय नृत्य (Semi-Classical Dance) इन दो विधाओं में प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। दोनों विधाओं में सोलो, डुएट तथा ग्रुप प्रस्तुति दी जा सकेगी।

प्रतियोगिता के अंतिम दिन सीनियर व ओपन केटेगरी में उत्कृष्ट प्रस्तुति देने वाले नर्तक को पं.राजेन्द्र गंगानी जी कथक अलंकरण प्रदान किया जाएगा।

इसी के साथ जूनीयर, सीनियर तथा ओपन केटेगरी में तबला वादन प्रातियोगिता भी इस आयोजन में सम्मिलित है।

वरिष्ठ नृत्य गुरु जयपुर घराने के प्रसिद्ध गुरु पं. राजेंद्र गंगानी इस अवसर पर स्वयं उपस्थित रहेंगे। साथ ही उनके समक्ष नृत्य प्रस्तुति देने का सुअवसर भी प्रदान किया जाएगा ।

प्रतिभावान कलाकारों को किंकिणी कीर्तन नटराज अलंकरण, किंकिणी कीर्तन प्रतिभा अलंकरण और किंकिणी कीर्तन कथक-श्री अलंकरण भी प्रदान किये जाएंगे।

उज्जैन एक ऐतिहासिक, धार्मिक और सांस्कृतिक नगरी है जो 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक श्री महाकालेश्वर मंदिर तथा कालिदास संस्कृत अकादमी के लिए जाना जाता है।  यहाँ  52 शक्तिपीठों में से एक माँ हरसिद्धि का मंदिर तथा भगवान श्री कृष्ण की शिक्षास्थली श्री सांदीपनि आश्रम भी स्थित है ।

प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए आवेदन पत्र यहाँ से डाऊनलोड करें अथवा ऑनलाइन आवेदन यहां करे। आवेदन 15 एप्रिल तक स्वीकार होंगे।

Leave a Comment

Connect with:




Your email address will not be published.