उस्ताद इमरत खान: सुर से बहार का अलग हो जाना
Featured
473 views
Featured
473 views

उस्ताद इमरत खान: सुर से बहार का अलग हो जाना

अनुराग तागड़े, इंदौर - November 27, 2018

किसी भी कलाकार का निधन अपने साथ एक लंबी परंपरा और संगीत के संस्कार अपने साथ ले जाता है...ऐसे संस्कार जिनकी जड़े कई सौ वर्षों पुरानी हो।…

पद्मश्री पं. डी. के. दातार : सुरीले सफर का यूं थम जाना
Featured
1,004 views
Featured
1,004 views

पद्मश्री पं. डी. के. दातार : सुरीले सफर का यूं थम जाना

अनुराग तागड़े, इंदौर - October 11, 2018

विश्वप्रसिद्ध वायलिन वादक पद्मश्री पंडित डी. के. दातार का कल दि. १० अक्टूबर को मुंबई में निधन हो गया। वे ८६ वर्ष के थे। उनके चेहरे की…

जयपुर अतरौली घराने की प्रतिनिधि गायिका विदुषी अश्विनी भिडे देशपांडे
Featured
1,011 views
Featured
1,011 views

जयपुर अतरौली घराने की प्रतिनिधि गायिका विदुषी अश्विनी भिडे देशपांडे

अनुराग तागड़े, इंदौर - October 6, 2018

शास्त्रीय संगीत में सुरों की सच्चाई का सत्य हरेक कलाकार जानता है... यह ऐसा सच है जिसके आगे-पीछे दूर दूर तक कोई नहीं, याने सुर सच्चे लगे है…

संगीत की भक्ति और भक्ति संगीत
Variety
814 views
Variety
814 views

संगीत की भक्ति और भक्ति संगीत

अनुराग तागड़े, इंदौर - July 29, 2018

कहते है संगीत परमब्रम्ह है... निश्चित रुप से संगीत के सुरों की मिठास और अमृत की बूंदे आपस में रिश्तेदार ही होंगी जिसके कारण संगीत यह सुनते…

पंडित जी का गाना और उस्ताद जी का बजाना
Instrument
968 views
Instrument
968 views

पंडित जी का गाना और उस्ताद जी का बजाना

अनुराग तागड़े, इंदौर - June 27, 2018

भारतीय शास्त्रीय संगीत सुरों का ऐसा सागर है जिसकी गहराई को नापने के लिए वर्षों की तपस्या भी कम है। अपने आप को रियाज की आग में…

सुरों की गहराई मापने वाली और अपनी शर्तोें पर अडिग रहने वाली गायिका
Featured
11 shares2,974 views3
Featured
11 shares2,974 views3

सुरों की गहराई मापने वाली और अपनी शर्तोें पर अडिग रहने वाली गायिका

अनुराग तागड़े, इंदौर - May 14, 2018

सुर एक, पर हरेक राग में उसे किस तरह से गाया जाता है, श्रुति की बारिकी को ध्यान में रखकर यह किशोरीताई अमोणकर बेहतरीन तरीके से जानती…

दु:ख की गहराई से भी रुठे सुरों को मना लेंगे…
Variety
9 shares4,277 views
Variety
9 shares4,277 views

दु:ख की गहराई से भी रुठे सुरों को मना लेंगे…

अनुराग तागड़े, इंदौर - May 11, 2018

दर्द की पराकाष्ठा सुरों की मिठास छोड़ क्या सुर ही गले से छीन लेती है। दु:खों के पहाड तले किसी गायक के गले के सुर दम तोड़…

शास्त्रीय संगीत : शास्त्रीयता को दायरे में न बांधे…
Views
482 views
Views
482 views

शास्त्रीय संगीत : शास्त्रीयता को दायरे में न बांधे…

अनुराग तागड़े, इंदौर - March 20, 2018

शास्त्र को संदर्भ के रुप में ही देखने की आदत हमें डाली गई है पता नहीं क्या कारण है पर शास्त्र याने बड़ी पोथियों को कपड़ो में…

संगीत अवचेतन मन को भी तृप्त करता है
Variety
373 views
Variety
373 views

संगीत अवचेतन मन को भी तृप्त करता है

अनुराग तागड़े, इंदौर - March 17, 2018

सांगीतिक समझ के साथ संगीत सुनना किसी कलाकार या संगीत के जानकार ही कर सकते है पर क्या कारण है कि भारतीय शास्त्रीय संगीत से लेकर अन्य…

स्मृति शेष पद्मविभुषण गिरिजा देवी…
Featured
7 shares858 views1
Featured
7 shares858 views1

स्मृति शेष पद्मविभुषण गिरिजा देवी…

अनुराग तागड़े, इंदौर - November 16, 2017

सांगितिक आभा मंडल के दैदिप्यमान ओज से वे दमकती रहती थी जितनी लरजती गरजती उनकी आवाज उतना ही मीठा उनका बोलना... शब्दों का चयन भी जैसे कौन…